तीन मई तक प्रभावित क्षेत्रों को कोई ढील नहीं

admin
images 17

देहरादून। उत्तराखण्ड के कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में तीन मई तक किसी भी तरह की ढील नहीं दी जायेगी। 20 अपै्रल के बाद सिर्फ ग्रीन जोन वाले आठ जिलों में थोड़ी छूट दी जा सकती है।
स्वास्थ्य सचिव रितेश झा द्वारा इस आशय की जानकारी देते हुए बताया गया है कि राजधानी दून व ऊधमसिंहनगर जहां सबसे अधिक कोरोना के पीडि़त मिले हैं, उन्हें रेड जोन घोषित किया गया है।
केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा संवेदनशील और अति संवेदनशील जिलों की सूची जारी कर दी गयी है। इस सूची में देहरादून और ऊधमसिंहनगर को हाट स्पाट सिटी की सूची में रखा गया है। इसलिए 3 मई तक इन दोनों ही जनपदों में किसी भी तरह की ढील और रियायत नहीं दी जायेगी।
उल्लेखनीय है कि अब तक राज्य में कुल 37 कोरोना संक्रमित लोग पाये गये है। इनमें से 9 लोगों के ठीक हो जाने के कारण उन्हे अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। दून में अब तक सबसे अधिक 18 मामले सामने आये है, जबकि ऊधमसिंहनगर में 12 लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। इसके अतिरित्त पौड़ी और अल्मोड़ा में एक-एक तथा हरिद्वार में पांच मामले मिले है।
स्वास्थ्य सचिव का कहना है कि राज्य के तीन जिलों को यलो जोन में रखा गया है। जिन जिलों में अब तक एक या दो ही मामले सामने आये है, उनमें अगर आगे कोई मामला सामने नहंी आता है तो इन जिलो से एक दूसरे जिलों में आने जाने से प्रतिबंध हटाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखंड में केंद्र की गाइड लाइन के अनुरूप ही चलेगा लॉकडाउन। इन चीजों के लिए लेनी होगी सशर्त परमिशन

देहरादून। उत्तराखंड के लिहाज से जैसा माना जा रहा था, वैसा हुआ नहीं और उत्तराखंड सरकार ने साफ कर दिया है कि केंद्र सरकार की गाइड लाइन के हिसाब से ही उत्तराखंड में भी लॉकडाउन का पालन होगा। आज मुख्यमंत्री की […]
FB IMG 1587056497963