बच्चों के पठन-पाठन में किसी भी स्कूल में न हो असुविधा: धन सिंह

admin
पौड़ी। प्रदेश के उच्च शिक्षा, सहकारिता, प्रोटोकाल, दुग्ध विकास मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 धन सिंह रावत ने जिलाधिकारी श्री धीराज सिंह गर्ब्याल के उपस्थिति में आज विकास भवन पौड़ी के सभागार में शिक्षा विभाग की बैठक ली। उन्होने अपर निदेशक शिक्षा को सभी विद्यालयों में ग्रीन कैंपस अभियान चलाकर वृक्ष लगाने के निर्देश दिये।
प्राइमरी विद्यालय में 15 तथा इण्टर कालेजों में लगभग 40 फलदार वृक्ष अनिवार्य रूप से लगाया जाय। उन्होने कहा कि छात्र-छात्राओं के लिए शिक्षा की महत्वता को देखते हुए, उनके विधानसभा 30 इण्टर कालेजों में ई-लर्निंग की उपकरण दिया गया है। कहा कि  अवशेष विद्यालयों में भी ई-लर्निंग उपकरण/प्रोजेक्टर दो माह के भीतर उपलब्ध करायी जायेगी। जबकि 30 अक्टूबर तक सभी विद्यालयक टाट/दरी मुक्त किया जायेगा। जिसके लिए उन्होने विधायक निधि से 25 लाख की धनराशि देने की बात कही। उन्होने यह भी कहा कि विद्यालयों में फर्निचर उपलब्ध कराने वाले फार्म 5 वर्ष तक छतिग्रस्त फर्निचर की मरम्मत भी करेंगे। उन्होंने जीर्ण-शीर्ण विद्यालयों के मरंमत कार्य करवाने हेतु विधायक निधि से और धनराशि देने की बात कही। कोई भी विद्यालय ऐसे न हो,  जिसमें बच्चों के पठन-पाठन में असुविधा बना रहे।जिसके लिए उन्होने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जबकि कुछ विद्यालय के निर्माण कार्य हेतु विधायक निधि से धनराशि दी गई है। जिन पर शीघ्र कार्य करने के निर्देश दिये है।
  उच्च शिक्षा मंत्री डा0 रावत ने कहा कि 10 सितम्बर से पूर्व श्रीनगर अथवा खीर्सू में हाई स्कूल एवं इण्टर के टॉपर बच्चों को 5-5 हजार की धनराशि के साथ सम्मानित ,किया जायेगा। जिसके लिए उन्होने मुख्य शिक्षा अधिकारी को सूचि उपलब्ध कराते हुए, बच्चों को आमंत्रित करने के निर्देश दिये। उन्होने विधानसभा के विद्यालयों में पद के सापेक्ष तैनाती शिक्षकों जानकारी ली। जिस पर अपर निदेशक शिक्षा ने बताया कि 472 पद के सापेक्ष 91 पद रिक्त है। मंत्री डा0 रावत ने त्रिपालीसैंण विद्यालय के रिक्त पदों की विज्ञप्ति जारी करने के निर्देश दिये। उन्होने खीर्सू के बलोडी, पटोटिया, थलीसैण स्यूशाल तथा श्रीनगर के विद्यालय में अतिरिक्ति शौचालय बनाने के निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने में न हो प्रमाण पत्र के कारण परेशानी

नैनीताल। विभिन्न तकीनीकी एवं गैर तकीनीकी काॅलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित होने वाली काउंसिलिंग एवं विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने में जनपद के किसी भी विद्यार्थी को जाति, स्थायी एवं आय प्रमाण पत्र के कारण कोई परेशानी न हो, इस […]
IMG 20190804 231008