गरीब मरीज को बाहर से दवा लिखने पर सीएमएस से वसूले पैसे

admin

गन्दगी पर सफाई ठेकेदार विपिन काण्डपाल को 20 हजार जुर्माना व रसोईघर ठेकेदार सचिन जोशी को 5 हजार का जुुर्माना

हल्द्वानी। जिलाधिकारी श्री सविन बंसल ने शुक्रवार को प्रातः 8ः30 बजे बेस चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण दौरान उन्होने चिकित्सकों द्वारा जेनरिक दवा ना लिखने व बाहर से दवा लिखने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये चिकित्सक डा0 सीएस भटट को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश देते हुये गरीब मरीज को प्राइवेट दुकान से दवा लिख कर खरीदवाने पर प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा0 हरीश लाल से मरीज राजीव कुमार को नगद 700 रूपये दिलवाये साथ ही चिकित्सालय मे गन्दगी पर सफाई ठेकेदार विपिन काण्डपाल को 20 हजार जुर्माना व चिकित्सालय रसोईघर में गन्दगी पाये जाने पर ठेकेदार सचिन जोशी को 5 हजार का जुुर्माना निरीक्षण के दौरान लगाया। निरीक्षण दौरान 25 अधिकारी व कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये जिनका वेतन रोकने के निर्देश मौके पर दिये।
जिलाधिकारी श्री बंसल ने बेस चिकित्सालय के औचक निरीक्षण के दौरान चिकित्सालय मे भर्ती मरीजों व उनके तीमारदारों से हालचाल पूछा व जानकारियां ली। उनके पूछने पर मरीजो व तीमारदारों ने अवगत कराया कि चिकित्सकों द्वारा छोटी-छोटी पर्चीया देकर बाहर दुकानांे से दवायें मंगवाई जाती है साथ ही शौचालयों की सफाई ना होने व चादरें भी नियमित ना बदले जाने की जानकारी दी। जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुये प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक को चेतावनी देते हुये कहा कि यदि दोबारा चिकित्सकों द्वारा जेनरिक दवाईयां ना लिखने व निजी मेडिकल स्टोरांे से दवा मंगवाई तो कडी कार्यवाही की जायेगी। उन्होने चिकित्सालय प्रयोगशाला के निरीक्षण दौरान गन्दगी पाये जाने व अनावश्यक सामग्री लैब में रखे जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये तुरन्त प्रयोगशाला की सफाई करने व निष्प्रयोज्य सामग्री हटाने के निर्देश दिये।
निरीक्षण दौरान श्री बंसल ने सिटी मजिस्टेट, खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा चिकित्सालय किंचन की व्यवस्था के साथ ही खाद्य पदार्थो के सैम्पल लेने के निर्देश दिये। चिकित्सकों द्वारा मरीजों को दवाईयां तीन पर्ची मे लिखे जाने पर तीसरी पर्ची में लिखी हुई दवाईयोे का नाम साफ नही आने पर चिकित्सको को सुस्पष्ट दवाइयें लिखने के साथ ही प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक को नियमित चैकिंग करने के निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

"देशज ज्ञान और प्रकृति" विषय पर एक संवाद

विश्व के मूलनिवासियों का अंतर्राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर न्यू फॉरेस्ट परिसर देहरादून में “देशज ज्ञान और प्रकृति” विषय पर एक संवाद कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमें प्रकृति प्रेमी विद्वानों और विषय विशेषज्ञों ने अपनी बात रखी। देशज ज्ञान के बारे […]
deshaj