कांग्रेस के सामने देश को छद्म राष्ट्रवाद से बचाने की जिम्मेदारी: अनुग्रह नारायण सिंह

admin
download
देहरादून। कांग्रेस के सामने इस समय सबसे बड़ी चुनैती देश को छद्म राष्ट्रवादियों के चंगुल से मुक्त करने की है, जो देश की जनता को राष्ट्रवाद के नाम पर छल रहे हैं और सत्ता में काबिज रहने के लिए देशभक्ति का चोला ओढे हैं। यह बात आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित कांग्रेस के अनुषांगिक संगठनों- महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस व एनएसयूआई के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी व सीडब्ल्यूसी सदस्य अनुग्रह नारायण सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि आज देश वर्तमान सरकार की गलत नीतियों के कारण आर्थिक मंदी की ओर अग्रसर है,देश की माली हालत लगातार कमजोर हो रही है , नोट बन्दी के दुष्परिणाम देश के सामने आने लगे हैं, रोजगार लगातार खत्म हो रहे हैं और बेरोजगारी उसी गति से बढ़ रही है और सत्ताधारी बीजेपी अपनी इन नाकामियों को छुपाने के लिए छद्म राष्ट्रवाद का सहारा ले कर जनता को गुमराह करने का काम कर रही है।
कांग्रेस का गौरवशाली इतिहास रहा है 134  वर्षों का , आज़ादी से पहले स्वतंत्रता संग्राम में और आज़ादी के बाद देश के नव निर्माण में कांग्रेस की भूमिका का गौरवशाली इतिहास रहा है और जिन लोगों के पुरखों ने आजादी की लड़ाई में दो डंडे तक नहीं खाये आज वे लोग कांग्रेस से देशभक्ति का सुबूत मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत की आज़ादी में गांधी नेहरू पटेल व मौलाना आज़ाद के संघर्ष की विरासत है कांग्रेस के पास और बीजेपी के पास केवल झूठ फरेब , अफवाह तंत्र व धनबल का भंडार है। उन्होंने कांग्रेस के अनुषांगिक संगठनों से कांग्रेस की छतरी के नीचे एक जुट हो कर इन छद्म राष्ट्रवादियों के खिलाफ संघर्ष का आह्वान किया।
 प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं के पास एक सुनहरा मौका है जब हम जनता के बीच जा कर , उनकी तकलीफों और दुखों में भागीदार बन कर , बेरोजगार नवजवानों छात्रों के साथ मिल कर संघर्ष कर के जनता को कांग्रेस के साथ जोड़ने का काम कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश की जनता राज्य की सरकार की कारगुजारियों से परेशान है, राज्य में बेरोजगारी अपने चरम पे है, लोग आपदा से मर रहे हैं, बीमार बिना इलाज के मर रहे हैं और सरकार और मुख्यमंत्री मस्त हैं। प्रीतम सिंह ने कहा कि पहाड़ में प्रतापनगर के कंगसाली में 10 मासूम बच्चों की मौत हो गयी और सीएम को आठ दिन तक उनकी सुध लेने का ध्यान नहीं आया और जब पीड़ित परिवारों के पास गए तो उनके घावों में मरहम लगाने की बजाय नमक लगा कर आ गए।
उन्होंने कहा कि राज्य में बेरोजगारी का आलम यह है कि पिछले पौने तीन साल से राज्य में किसी विभाग में भर्ती नहीं हुई उल्टा सरकार ने हज़ारों लोगों का रोजगार छीनने का काम किया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने अनुषांगिक संगठनों से सड़क पर मोर्चा खोलने की अपील की।
नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर इंदिरा हृदयेश ने कहा कि अनुषांगिक संगठन कांग्रेस के आंख नाक कान और हाथ पांव है और ये अंग ठीक रहेंगे तभी पूरा शरीर ठीक काम करेगा। उन्होंने कहा कि परस्पर सहयोग और सामंजस्य से ही पार्टी मजबूत होगी। प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष सरिता आर्य ने कहा कि महिला कांग्रेस अपने कार्यक्रमों के अलावा पीसीसी के कार्यक्रमों में भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लेती है। युवा कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष सुमित भुल्लर ने कहा कि वे जिला व विधानसभा क्षेत्र स्तर पर संगठन के कार्यक्रम करने की योजना पर काम कर रहे है। एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष मोहन भंडारी ने कहा कि उनका संघठन छात्रों का है जिनके पास कोई साधन नहीं है इसलिए उनकी संघठन से ज्यादा अपेक्षा है। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि देश व पार्टी के सामने जो चुनोतियाँ हैं उनका सामना बहादुरी से एकजुट होकर करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

एनसीएपी में शामिल दून को वायु प्रदूषण से मिलेगी राहत

नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम (एनसीएपी) में शामिल किये जाने का देहरादून को वायु प्रदुषण कम करने की दिशा में मिलेगा लाभ देहरादून। गति फाउंडेशन ने देहरादून को केन्द्र सरकार के नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम (एनसीएपी) में शामिल किये जाने का स्वागत […]
IMG 20190819 155054