करोड़ों की लागत से बनी योजना को अधर में लटकाए जाने पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने लगाई फटकार

admin

mla govind singh kunjwal ne yojna gadbadjhale par lagayi fatkar

mla govind singh kunjwal
mla govind singh kunjwal yojna me gadbadjhala par lagayi fatkar

सरयू घाटी के आरा सलपड क्षेत्र में क्षेत्रवासियों की समस्या सुनने पहुंचे थे कुंजवाल

जागेश्वर। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं जागेश्वर विधानसभा क्षेत्र के mla गोविंद सिंह कुंजवाल क्षेत्रवासियों की मुख्य समस्या को देखते हुए सरयू-बैलक पंपिग योजना का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंचे। जिसमें क्षेत्रवासियों व कार्यरत कर्मचारियों द्वारा विभागीय अधिकारियों के द्वारा किए गए गोलमाल से अवगत कराया। निरीक्षण के दौरान उन्हें अनेक खामियां पाई गई। उन्होंने इसके लिए जिम्मेदार कर्मियों को कड़ी फटकार लगाते हुए इन अव्यवस्थाओं को शीघ्र दुरुस्त करने के निर्देश दिए।
इस दौरान श्री कुंजवाल ने पाया कि हस्तांतरित होने से पहले ही पम्प खराब हो चुके हैं। मात्र एक मोटर से काम चलाया जा रहा है। गर्म हो जाने की स्थिति में जिसे बार- बार बंद कर पेयजल लिफ्ट किया जा रहा है।

नदी का पानी मुख्य टैंक तक नहीं पहुंच पा रहा है और गधेरे का पानी टैंक में छोड़ा गया है। टैंक के किनारों में मिट्टी भर जाती है। पानी फिल्टर की कोई व्यस्था नहीं है। इस प्रकार की तमाम खामियों को देखने के बाद विधायक खासे नाराज दिखाई दिए और उन्हें इसके लिए जिम्मेदार कर्मियों को कड़ी फटकार लगाई। उन्होंने जल्द ही जल निगम द्वारा उक्त अव्यस्थाओं को दुरुस्त करने के निर्देश दिए।
विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल ने विभाग द्वारा करोड़ों की लागत से बनी योजना को अधर में लटकाए जाने का आरोप लगाया। विभाग को मुख्य नलकूप सहित वितरण लाइनों की खामियों से उच्चाधिकारियों को अवगत कराए जाने को कहा। इसके बाद भी ढुलमुल रवैया अपनाया गया और समस्या का पूर्ण निराकरण नहीं किया गया तो आने वाली अग्रिम कार्यवाही के लिए विभाग स्वयं जिम्मेदार होगा।
इससे पहले श्री कुंजवाल काभडी में स्व. सुंदर प्रकाश के परिजनों से मिले और उन्होंने शोक संतप्त परिवार को सांत्वना। उन्होंने कहा कि हम उनके परिवार के साथ हर सुख-दुख में खड़े रहेंगे।
भ्रमण में काभडी से क्षेत्र पंचायत सदस्य दिनेश जोशी, निवर्तमान प्रधान आरा सल्पड दयाकृष्ण पांडेय, सामाजिक कार्यकर्ता कमल बिष्ट, प्रधान काभडी गोधन राम, चंदन बोरा, जीवन सिंह सहित क्षेत्र के तमाम कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

हैल्थ बुलेटिन uttarakhand : आज अल्मोड़ा और हरिद्वार में बढ़े आंकड़े। 67 फीसदी मरीज स्वस्थ

मुख्यधारा ब्यूरो देहरादून। आज uttarakhand में 25 नए sankramit मामले सामने आए हैं। इस प्रकार अब कुल संख्या 2127 पहुंच गई है। हालांकि राहत की बात यह है कि इनमें से करीब 67 प्रतिशत रिकवरी की दर से अब तक […]
uttarakhand health sankramit