हंस फाउंडेशन की माता मंगला विशालक्षी अवार्ड-2020 से सम्मानित

admin
a 5

मुख्यधारा ब्यूरो/बंगलुरू

श्री श्री रविशंकर के आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से समाजसेवी माता मंगला को विशालक्षी अवार्ड-2020 से सम्मानित किया गया है। यह अवार्ड उन्हें बंगलुरु में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मेलन में दिया गया। इस सम्मेलन में दुनियाभर से आए प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
शुक्रवार को बंगलुरु के आर्ट ऑफ लिविंग इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित इस तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मेलन का शुभांरभ श्री श्री रविशंकर के अलावा समारोह में उपस्थित गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा, राज्यपाल उत्तराखंड बेबी रानी मौर्य, पुंडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी, जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री हरसिमरन कौर बादल, टिहरी सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह सहित सम्मेलन में उपस्थिति मुख्य अतिथियों ने द्वीप प्रज्वलित कर किया।
इस मौके पर श्री श्री रविशंकर ने सम्मेलन में उपस्थित प्रबुद्धजनों का अभिवादन स्वीकार करते हुए कहा कि आज इस मंच पर पूरे विश्व की सशक्त आवाज विराजमान है, जो अपने-अपने क्षेत्र में समाज हित में निरंतर कार्य कर रहे हैं। आप आज हमारे इस भगीरथ प्रयास में खड़े हंै। इससे सौभाग्यशाली दिन हमारे लिए क्या हो सकता है। इसके लिए हम आप सभी प्रबुद्धजनों का आभार प्रकट करते हैं।
अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मेलन में विशेष तौर पर पहुंची उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने भी अपने विचार रखे।
राज्यपाल बेबी रानी मौर्य एवं टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह ने माताश्री मंगला जी को विशालक्षी अवार्ड-2020 मिलने पर बधाई दी। अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मेलन में शामिल हुए गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा, पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी, जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाध्ीश गीता मित्तल, केंद्रीय कैबिनेट मंत्राी हरसिमरन कौर बादल और टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह ने भी अपने विचार रखे और एक मत से कहा कि विश्व में सामाजिक, व्यवसायिक, सांस्कृतिक और राजनैतिक पटल पर परिवर्तन और तरक्की के लिए महिला सशक्तिकरण के लिए हम सब को आगे आना होगा, तभी विश्व में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित होंगे।
आर्ट ऑफ लिविंग के तत्वाधान में बेंगलुरु में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मेलन के प्रथम दिन विशालक्षी अवार्ड-2020 से सम्मानित समाज सेवी माताश्री मंगला ने आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर एवं इस सम्मेलन में उपस्थिति प्रबुद्धजनों का अभिवादन करते हुए कहा कि २१वीं सदी में महिलाओं की स्थिति में बदलाव की बयार चल पड़ी है। दुनियाभर में नारी को समानता का अधिकार दिया गया है। आज इसी का परिणाम है कि पूरी दुनिया से इस मंच पर महिला शक्ति की सफल विचारधारा एक साथ मंच पर उपस्थिति थी। वे उन सभी महिला प्रतिभागियों का इस मंच पर आने के लिए अभिवादन करती हैं। साथ ही इस भव्य आयोजन के लिए श्री श्री रवि शंकर को बधाई देती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

छात्रवृत्ति घोटाला: अल्पाईन कॉलेज का संचालक गिरफ्तार

देहरादून। उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेश पर प्रदेश के जनपद देहरादून एवं हरिद्वार में वर्ष 2011-12 से 2015-16 तक बांटी गई दशमोत्तर छात्रवृत्ति की जांच हेतु गठित एस.आई.टी. द्वारा शनिवार को थाना प्रेमनगर में पंजीकृत मुकदमा मु0अ0सं0 25/19, धारा 420/409/120बी […]
scholarship scam