मंत्री धन सिंह ने दिए दुग्ध उत्पादों को डोर टू डोर आपूर्ति करने के निर्देश

admin
FB IMG 1585400800143

कोरोना वायरस (कोविड-19) को लेकर प्रदेशभर में लाॅकडाउन की स्थिति को देखते हुए दुग्ध उत्पादकों से दुग्ध संग्रहण एवं उपभोक्ताओं को दुग्ध व दुग्ध उत्पादों की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक बुलाई।

दुग्ध विकास विभाग की समीक्षा बैठक में दुग्ध उपभोक्ताओं की समस्या को देखते हुए अधिकारियों को दूध एवं दुग्ध उत्पादों को डोर टू डोर आपूर्ति करने के निर्देश दिये।

लाॅकडाउन की स्थिति में अति आवश्यक सेवाओं को सरकार द्वारा जारी रखा गया है। अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सहकारी दुग्ध समितियों के माध्यम से नियमित रूप से दुग्ध संग्रहण करते हुए अधिक से अधिक दुग्ध उपार्जन किया जाय, यदि किसी दूध उत्पादक के पास सरप्लस दूध है तो वह सहकारी दुग्ध समिति की सदस्यता ग्रहण कर दुग्ध संघ या दुग्ध समिति को दूध विक्रय कर सकता है।
साथ ही दुग्ध उत्पादकों को राहत देते हुए दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन धनराशि का भुगतान अब सहकारी दुग्ध समिति के माध्यम से करने के निर्देश दिये एवं निदेशालय स्तर पर एक कंट्रोल रूम स्थापित करने के भी निर्देश दिये। ताकि दुग्ध आपूर्ति से संबंधित समस्या का तत्काल समाधान किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बड़ी खबर : मंगलवार को जगह-जगह फंसे लोग जा सकेंगे अपने घर। एक दिन की छूट

देहरादून। लॉकडाउन के कारण उत्तराखंड में जगह-जगह फंसे हुए लोगों की समस्या को देखते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक दिन की राहत देने का फैसला लिया है। इसके लिए मंगलवार 31 मार्च को परिवहन को चालू किया जाएगा […]
uttarakhand parivahan