मसूरी पालिका बनी घोटालों का अड्डा : पिरशाली

admin
IMG 20201110 WA0003

मसूरी। नगर पालिका मसूरी के 8 पार्षदों द्वारा संयुक्त प्रेस वार्ता कर पालिका अध्यक्ष पर जो भ्रष्टाचार और अनियमताओं के आरोप लगाते हुए 16 बिंदुओं का एक शिकायत पत्र मुख्यमंत्री, कमिश्नर और DM देहरादून को लिखकर उच्चस्तरीय जांच की मांग की है और उनके वित्तीय अधिकार छीनकर उनको बर्खास्त करने की मांग की है, इस पर आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने कहा कि यह एक गंभीर मामला है। इसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए और ऐसे में पालिका अध्यक्ष को अपने पद पर रहने का अधिकार नहीं है। उन्हें स्वतः ही इस्तीफा दे देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि पालिका अध्यक्ष ने अपने 2 साल के कार्यकाल में कई बार पालिका बोर्ड की सहमति या सूचना के बिना कई काम मौखिक आदेश पर करा देना लोकतांत्रिक प्रक्रिया की हत्या है। जब 2010 में जब लीज पर रोक लग गयी थी तो अब लीज क्यों की जा रही है। मैसनिक लॉज में पार्किंग के नाम पर 70 आवास बनाये जाने की बात की जा रही है। जब MDDA ने उसमें चालान किया था तो MDDA क्यों उसमें कार्रवाई नहीं कर रही है। माल रोड का इको बैरियर भ्रष्टाचार की जड़ है। पालिका अध्यक्ष ने बड़ी चालाकी से पालिका बोर्ड को बाईपास कर शहरी विकास मंत्रालय से इसकी स्वीकृति ले ली। यह बैरियर कंप्यूटरीकृत होना चाहिए। झड़ीपानी में भी मनमानी के काफी मामले सामने आये हैं। सुनने में यह भी आ रहा है कि फसने के डर से पालिका अध्यक्ष फ़ाइलों के साथ छेड़ छाड़ कर रहे हैं और जल्दबाज़ी में चेक़ बना रहे हैं ताकि सबका भुगतान हो जाय।

आम आदमी पार्टी मांग करती है शासन प्रशासन इसका संज्ञान लेकर पूरे प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच करे और पालिका अध्यक्ष की वित्तीय पावर तुरन्त छीन ली जाय पूर्व में भी उप जिलाधिकारी द्वारा इन मामलों की जांच की गयी थी जो अभी तक सार्वजनिक नही की गयी ये भी सार्वजनिक होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बिग ब्रेकिंग : कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को तीन माह का कारावास। जानिए क्यों और कैसे हुआ यह!

सत्यपाल नेगी/रुद्रप्रयाग उत्तराखंड से बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां दिग्गज कैबिनेट मंत्री डा. हरक सिंह रावत को रुद्रप्रयाग जिला न्यायालय ने तीन महीने के कारावास की सजा सुनाई है। इसके अलावा उन्हें एक हजार रुपए का जुर्माना भी […]
20201110 201257