शहीद सब इंस्पेक्टर राकेश डोभाल की नौ वर्षीय पुत्री का साहस देख हर कोई कर रहा सल्यूट। जानिए, बच्ची ने दुश्मनों को क्या चेतावनी दी

admin
20201116 142626

ऋषिकेश। उत्तराखंड को यूं ही वीर भूमि नहीं कहा जाता। यहां के प्रत्येक नागरिक की रगों में अपने देश की रक्षा के लिए जज्बा और साहस कूट-कूटकर भरा हुआ है। अभी तीन दिवस पूर्व बारामूला सीमा पर तैनात सब इंस्पेक्टर राकेश डोभाल दुश्मनों से लोहा लेते हुए शहीद हुए थे। उनकी नौ वर्षीय नन्हीं बच्ची को आज जब इस दु:खद घटना का एहसास हुआ तो उसने रोने की बजाय साहस का परिचय देते हुए कहा कि मैं दुश्मनों को हराकर रहूंगी और देशभक्ति के नारे लगाए। इससे हर कोई बच्ची के साहस को सल्यूट कर रहा है।


बताते चलें कि बारामूला में तीन दिन पूर्व पाकिस्तानी दुश्मनों से लोहा लेते हुए ऋषिकेश गंगानगर निवासी बीएसएफ सब इंस्पेक्टर राकेश डोभाल शहीद हो गए थे। उनका पार्थिक शरीर ऋषिकेश पहुंचा तो परिजनों में कोहराम मच गया। इस दौरान जब शहीद के पार्थिव शरीर के साथ आए सैन्य कर्मियों से शहीद की नौ वर्षीय बच्ची बोली कि क्या मैं आपको पापा कह सकती हूं तो यह सुन सभी की आंखों से अश्रुधारा उमड़ पड़ी, लेकिन फिर उसने न सिर्फ अपने परिजनों को ढांढस बंधाया, बल्कि साहसपूर्वक देशभक्ति के नारे लगाकर दुश्मनों को ये संदेश भी दिया कि उत्तराखंड का बच्चा-बच्चा देश रक्षा के लिए हर क्षण तैयार है।

 

20201116 142330

इस दौरान नन्हीं बच्ची ने कहा कि मैं भी बड़ा होकर देश की रक्षा करूंगी और दुश्मनों को हराकर रहूंगी। मैं अपने देश को नंबर वन करूंगी। बच्ची के मुंह से ऐसे साहसपूर्ण बातें सुनकर हर कोई उनके जज्बे को सलाम कर रहा है।

इस दौरान भारतमाता के नारों से आसमान गूंज उठा। सैकड़ों की संख्या में क्षेत्रवासी शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

यह भी पढें : श्री केदारनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

सीएम त्रिवेंद्र रावत व योगी आदित्यनाथ ने किया बद्रीनाथ धाम में उत्तर प्रदेश पर्यटक आवास गृह का शिलान्यास

देश और प्रदेश की खुशहाली के लिए की प्रार्थना चमोली। प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बद्रीनाथ धाम में लगभग 20 नाली भूमि में बनने वाले उत्तर प्रदेश पर्यटक आवास गृह […]
a1