उत्तराखंड में नदियों एवं नहरों में फ्लोटिंग टरबाइन के माध्यम से तलाशेंगे ऊर्जा उत्पादन की संभावनाएं

admin
canal

देहरादून। राज्य की नदियों एवं नहरों में फ्लोटिंग टरबाइन के माध्यम से ऊर्जा उत्पादन की संभावनाएं तलाशने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि सोलर व विंड पावर की भांति ऊर्जा उत्पादन की यह विधि राज्य की नहरों एवं नदियों के अनुकूल होगी।
पर्वतीय क्षेत्रों में नदियों में इस प्रकार के फ्लोटिंग टरबाइन ऊर्जा उत्पादन के साथ ही खेतों की सिंचाई तथा पेयजल आपूर्ति में मददगार हो सके, इसकी भी संभावनाएं तलाशी जाएं, इससे वर्षा जल पर आधरित खेतों की सिंचाई की निर्भरता कम होगी। उन्होंने इसके लिए स्थानीय लोगों को भी प्रोत्साहित किए जाने की जरूरत बताई।
प्रदेश की नदियों एवं नहरों का राज्य हित में तकनीकी के माध्यम से ऊर्जा एवं पर्यटन की दृष्टि से बेहतर उपयोग समय की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस दिशा में नदियों व नहरों की क्षमता के उपयोग लागत आदि का भी आधुनिक तकनीकी दक्षता के साथ आकलन करने को कहा है। इस प्रकार के प्रयासों से नवाचार को भी बढ़ावा मिलेगा। इस अवसर पर इस संबंध में प्रस्तुतीकरण भी प्रस्तुत किया गया।
बैठक में मुख्यमंत्री के तकनीकी सलाहकार नरेंद्र सिंह, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, सचिव अमित नेगी, नितेश झा, राधिका झा, तीनों ऊर्जा निगम के प्रबंध निदेशकों के साथ ही अन्य संस्थानों के अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

इसी सत्र से विज्ञान विषयों में स्नातकोत्तर कक्षाएं संचालित करने का मंत्री धनसिंह ने दिलाया भरोसा

स्मार्ट कक्षा, फर्नीचर, उपकरण व लाइब्रेरी, खेलकूद को दिए गए को दिये गये थे दो करोड़ बगैर समिति के अनुमति के खर्च कर दी अधिकांश धनराशि पर शिक्षामंत्री ने जताई नाराजगी नीरज उत्तराखंडी/पुरोला उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने […]
IMG 20200704 WA0006