यमकेश्वर : देखिए इस खोखली सड़क पर ऐसे दौड़ रहे वाहन! जिम्मेदारों का मौन दे रहा बड़े हादसे को न्यौता

admin
PicsArt 09 04 05.42.33

मुख्यधारा ब्यूरो
देहरादून। यूं तो उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों में जब-तब दुर्घटनाएं होती रहती हैं और असंख्य लोग अपनी जान गंवाते हैं, लेकिन जब खोखली सड़कों पर ही वाहन दौड़ रहे हों तो हादसे की आशंका और प्रबल हो जाती है। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसी कौन सी सड़क होगी, जो खोखली है तो इसकी हकीकत जानने चले आइए अस्थाई राजधानी देहरादून के सबसे नजदीकी विधानसभा क्षेत्र यमकेश्वर के विकासखंड में, जहां आपकी आशंका को प्रत्यक्ष प्रमाण भी मिल जाएगा।


जी हां! यह सौ फीसदी सच है कि यमकेश्वर विकासखंड में कई खोखली सड़कों पर वाहन सरपट दौड़ रहे हैं, लेकिन जिम्मेदार हैं कि इस और मौन हैं और किसी बड़ी दुर्घटना को न्यौता दे रहे हैं।
इस क्षेत्रवासियों के राज्य निर्मांण के बाद भी विकास की राह ताकते-ताकते आंखें पथरा गई हैं, लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुयी है। स्थिति यह है कि लोग अपने भाग्य को कोसने पर मजबूर हैं।


क्षेत्रीय जन समस्याओं को निरंतर उठाने वाले पूर्व सैनिक एवं क्षेत्र पंचायत सदस्य बूंगा सुदेश भट्ट इस बार ने इस बार भी नीचे से खोखली हो चुकी एक सड़क का मुद्दा उठाया है।

IMG 20200904 WA0011
सुदेश भट्ट ने जानकारी देते हुए बताया कि यह सड़क ऋषिकेश लक्ष्मणझूला से मात्र 13 किमी. की दूरी पर व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गांव से मात्र 17 किमी. की दूरी पर स्थित है। यह सड़क यमकेश्वर की जीवन रेखा समझी जाती है। इस सड़क से दिनभर सैकड़ों वाहन ऊपर-नीचे गुजरते हैं, लेकिन नीचे से अत्यंत जर्जर और खोखली हो चुकी सड़क से ये लोग अंजान होकर बेखौफ आवाजाही करने को मजबूर हैं। श्री भट्ट सड़क की भयावह स्थिति को देखकर बड़ी आकस्मिक दुर्घटना की आशंका जताते हैं।

PicsArt 09 04 05.43.14

क्षेत्र पंचायत सदस्य सुदेश भट्ट कहते हैं कि यदि उक्त स्थान पर दो वाहन आते-जाते पास होते हैं तो उस दौरान कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। इससे चिंतित होकर सुदेश भट्ट समेत समस्त क्षेत्रवासियों की सरकार से मांग है कि दुर्घटना को न्यौता दे रही इस समस्या का शीघ्र समाधान किया जाए, अन्यथा यमकेश्वर की इसी तरह की तमाम विकट समस्याओं को लेकर स्थानीय पंचायत प्रतिनिधि व ग्रामीण सड़कों पर उतरने को बाध्य होंगे, जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।

IMG 20200904 WA0008

बताते चलें कि कुछ दिन पहले भी सुदेश भट्ट मुख्यधारा के पाठकों के समक्ष यमकेश्वर ब्लॉक मुख्यालय से महज चार सौ मीटर की दूरी पर स्थित ऐसी ही एक खोखली हो चुकी सड़क की दुर्दशा को उजागर कर चुके हैं। इसके अलावा श्री भट्ट क्षेत्रीय जन सरोकारों से जुड़े मुद्दों को समय-समय पर उठाते रहते हैं।

यह भी पढें : कैबिनेट बैठक के महत्वपूर्ण फैसले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आम श्रद्धालुओं के लिए खुले श्री हेमकुण्ड साहिब एवं लक्ष्मण लोकपाल के कपाट। पहले दिन 127 श्रद्धालुओं ने पवित्र धाम में टेका मत्था

चमोली। सिखों के पवित्र तीर्थ श्री हेमकुण्ड साहिब एवं लक्ष्मण लोकपाल के कपाट शुक्रवार को सादगी के साथ आम श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए। कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष पहले दिन 127 श्रद्धालुओं ने हेमकुण्ड साहिब पवित्र धाम में […]
hemkund sahib mukhyadhara news portal dehradun uttarakhand