कासला के ग्रामीणों का कमाल

admin
images 1

उत्तरकाशी। जनपद उत्तरकाशी के विकास खण्ड मोरी का सुदूरवर्ती गांव कासला यातायात की सुविधा से बंचित है।ग्रामीणों ने सडक की सुविधा के लिए सरकार और जनप्रतिनिधियों का मुँह ताकने की बजाय स्वयं के प्रयास तथा संसाधनों से गांव तक सम्पर्क मार्ग बनाने निर्णय लिया और कामयाबी की नई इबारत लिखकर सरकारी सिस्टम को आयना दिखाया ।
सडक मार्ग से बंचित मोरी गांव के कासला गांव के ग्रामीणों ने सरकार और नुमाइंदो का मुँह ताकने की बजाय खुद की ताकत तथा पहल से चंदे से जुटाये धन से करीब डेढ किमी लम्बी सडक बना कर सिस्टम को आयना दिया ।
मोरी ब्लाक के सीमांत गांवों को जोडने के लिए निर्माणाधीन जखोल फिताडी लिवाडी मोटर से कासला गांव डेढ किमी दूरी पर है।ग्रामीणों ने गांव के मुख्या केवल सिंह राणा तथा प्रलाहद सिंह राणा के नेतृत्व में चंदा इकठ्ठा कर 6 लाख का चंदा एकत्र कर जेसीबी मशीन लगाकर सम्पर्क मार्ग बना डाला । ग्रामीणों ने सरकार और नुमाइंदो का मुँह ताकने की बजाय स्वयं के प्रयास से गांव तक सम्पर्क बनाने की पहल शुरू की और कामयाबी और प्रेरणा की मिसाल कायम की।
तीन माह के अथक प्रयास से 6लाख की लगत से गरीब डेढ किमी लम्बा सडक मार्ग बनाकर जब जेसीबी गांव पहुंची तो ग्रामीणों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा । आखिर ग्रामीणों की मेहनत रंग लाई ।और 80परिवार सडक मार्ग से जुड गये। सम्पर्क मार्ग बनाने केवल सिंह राणा तथा प्रहलाद सिंह राणा के नेतृत्व में सभी ग्रामीणों का सहयोग रहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

लद्दाख की तरह उत्तराखंड को भी केन्द्र सरकार के अधीन किया जाने की जरूरत

अनुसूया प्रसाद घायल उत्तराखंड राज्य बनने का सर्वाधिक खामियाजा यहाँ के मूल निवासी शिल्पकार अनुसूचित समाज को हुआ। वे घर के रहे न घाट के। पलायन से हर रोज गाँव खाली हो रहे हैं। अब मजबूरी मे सामान्य वर्ग का […]
IMG 20190810 235112