ईको सेंसिटिव जोन में शामिल करने का क्षेत्र के लोगों ने किया विरोध

admin
IMG 20190904 WA0009

राजा जी टाइगर रिजर्व पार्क के अधिकारियों ने की पहली जन सुनवाई

डोईवाला। राजाजी नेशनल पार्क से जुड़़े टाइगर रिजर्व रामगढ वन क्षेत्र कार्यालय मे आज इको सेंसिटिव जौन मे सामिल होने जा रहे ग्रामीण क्षेत्रों के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के साथ पार्क प्रशासन ने बेठक के माध्यम से जन सुनवाई की।
लेकिन पार्क क्षेत्र से सटे गाँव के लोगो ने इस जन सुनवाई में ग्रामीण क्षेत्रों को इको सेंसिटिव जौन बनाने के सुप्रीम कोर्ट के फेसले का यह कहते हुए विरोध किया की पूर्व मे जब राजा जी नेशनल पार्क का निर्माण हुआ था तो तब भी क्षेत्र के लोगो को विश्वास मे लेकर तमाम वादे और विकास की बात कही थी लेकिन पार्क के बनते ही आम लोगों की मुसिबते बढ़ाते हुये हक हकूक पर ही रोक लगा दी।
इसलिये अब जब पार्क से सटे क्षेत्र को इको सेंसिटिव घोषित करने के लिये जन सुनवाई हुई तो गांव के लोगो ने इस निर्णय को आम आदमी के खिलाफ़ बताते हुये इस फेसले का विरोध किया।

IMG 20190904 WA0007
जन सुनवाई के दौरान पार्क प्रशासन की और से वार्डेन अजय शर्मा ने बताया की सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ही हमने लोगो के बेठक कर जन सुनवाई की है जिसमें ग्रामीणों को बताया है की इको सेंसिटिव जौन बन जाने से पर्यावरण संरक्षण होगा और इसके अन्तर्गत किसी तरह की कोई रोक टोक नही है लेकिन कुछ चीजों को प्रतिबंधित किया जाएगा तो कुछ चीजों को नियन्त्रित किया जाएगा ताकि पर्यावरण संरक्षण और पार्क के हित बने रहे।
उधर गाँव के लोगो ने पार्क से सटे क्षेत्र को इको सेंसिटिव जौन बनाने पर अपनी आपत्ति जताई और कहा की सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय से क्षेत्र के लोग भारी मुसीबतों का सामना करेंगे साथ ही उन्हे हर काम के लिये पार्क प्रशासन की लंबी चोड़ी प्रक्रिया से भी गुजरना पड़ेगा।

सुप्रीम कोर्ट ने पर्यावरण संरक्षण के साथ ही राजा जी नेशनल पार्क को देखते हुये पार्क से सटे क्षेत्र को इको सेंसिटिव जौन बनाने का आदेश दिया है जिसके बाद से पार्क प्रशासन लगातार पार्क से सटे क्षेत्र के ग्रामीणों के साथ बेठक कर जन सुनवाई कर रहा है ताकि पर्यावरण संरक्षण मे आम जन का सहयोग लेकर पार्क के हित भी बने रहे लेकिन पार्क प्रशासन की ग्रामीणों के साथ हुई बेठक मे लोगो ने अपना विरोध जताया है और मांग की है की पेहले उन्के हितों की सुरक्षा हो।
जन सुनवाई मे सिमलास झडोंद बुल्लवाला शत्तिवाला माधोवाला केमरी मोथरो वाला झब्बरा वाला मार्खम ग्रांट दुधली नागल ज्वालापुर के सेकड़ो लोगो ने इस जन सुनवाई का विरोध किया।
पूर्व प्रधान सिमलास उम्मेद बोरा प्रदीप कुमार गीता देवी रन्जोध विनीत लोधी राजकुमार अग्रवाल प्रीतम सिंह संजीव मंगल सिंह राजवीर सिंह राजेन्द्र तडियाल परमिंदर सिंह ज्ञान सिंह अमित अशोक वर्मा मोथरो वाला के निगम पार्षद माम सिंह दर्पान बोरा आदि लोगो के साथ राम गढ पार्क के रेंज अधिकारी राकेश नेगी उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

पहाड़ के लिए खूनी कानून है विकास प्राधिकरण, जानिए कड़वी सच्चाई

एकजुट होकर विरोध करने का है समय संतोष फुलारा पर्वतीय राज्य के लिये संघर्ष करते समय क्या किसी ने सोचा होगा कि एक दिन ऐसा भी आयेगा जब विकास प्राधिकरण जैसे काले कानून को हमारे उपर जबरन थोपा जायेगा जो […]
FB IMG 1567682505255