द्वारीखाल : अजीविका मिशन के तहत ‘हिलांश ग्राम संगठन किनसुर’ का गठन (Hilansh village organization Kinsur )

admin
IMG 20220918 WA0027

द्वारीखाल/मुख्यधारा

विकासखंड द्वारीखाल के ग्राम पंचायत किनसुर में अजीविका मिशन के अंतर्गत ‘हिलांश ग्राम संगठन किनसुर’ (Hilansh village organization Kinsur ) का गठन किया गया। कई कई स्वयं सहायता समूहों ने प्रतिभाग किया।

किनसुर ग्राम पंचायत के प्रधान दीपचन्द शाह ने जानकारी देते हुए बताया कि ग्राम पंचायत किनसुर में अजीविका मिशन के अंतर्गत ‘हिलांश ग्राम संगठन किनसुर’ (Hilansh village organization Kinsur ) का गठन किया गया। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर ग्राम पंचायत के दुर्गा स्वयं सहायता समूह, शक्ति स्वयं सहायता समूह, गंगा स्वयं सहायता समूह एवं तीन गठित स्वयं सहायता समूहों की महिलाओ ने भाग लिया।

Video

प्रधान श्री शाह ने बताया कि इस एक दिवसीय ‘आजीविका मिशन एवं बचत’ कार्यशाला में आजीविका मिशन द्वारीखाल के प्रबंधक सौरभ कुमार निर्मोही मौजूद रहे।

इस मौके पर सभी समूह की महिलाओं को बचत, कृषि, पशुपालन के तहत बकरी पालन, मुर्गीपालन, गौ पालन, मौन पालन, मत्स्य पालन आदि के बारे विस्तृत जानकारी दी गयी।

इस दौरान आजीविका मिशन के प्रबंधक ने स्वयं सहायता समूहों को नि:शुल्क व्यवसायिक ट्रेनिंग देने का आश्वासन भी दिया है।

IMG 20220918 WA0028

ग्राम प्रधान दीपचन्द शाह ने बताया कि ग्रामीणों की आजीविका बढ़ाने के लिए उन्होंने हरसम्भव मदद देने की बात कही है। जिसमें ग्रामीणों को चाहिए कि अधिक से अधिक संख्या में कार्यक्रम से जुड़कर योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आगे आना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों के आयोजन होने से ग्रामीणों में जागरूकता आएगी और उनकी आजीविका में इससे सुधार होगा।

IMG 20220918 WA0026

प्रधान ने स्वयं सहायता समूह से जुड़ी सभी महिलाओं का कार्यक्रम में शामिल होकर इसे सफल बनाने में योगदान देने पर आभार जताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

Health: डेंगू (Dengue) के प्रकोप से बढी चिंता, इन उपायों को अपनाकर डेंगू से रहिए मुक्त। जानिए डेंगू बुखार के लक्षण व उपचार

ऋषिकेश/मुख्यधारा डेंगू (Dengue) के कहर को रोकने के लिए एम्स ऋषिकेश एवं नगर निगम के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 7 प्लस वन अभियान के तहत विभिन्न इलाकों में जनसमुदाय को डेंगू को लेकर जागरूक किया गया। सघन जनजागरूकता अभियान के […]
dengue