ब्रेकिंग: कोटद्वार में शिशुपाल नेगी की हत्या का प्रयास करने वाले निकले सुपारी किलर। तीन गिरफ्तार

admin
abhiyukt

ब्रेकिंग: कोटद्वार में शिशुपाल नेगी की हत्या का प्रयास करने वाले निकले सुपारी किलर। तीन गिरफ्तार

कोटद्वार। पुलिस ने शिशुपाल सिंह नेगी की हत्या करने के प्रयास करने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार कर दिया है। हालांकि नेगी खुशकिस्मत रहे कि वह इस घटना में बाल-बाल बच गए।
बताते चलें कि बीती 24 दिसंबर २०१९ की शाम प्रभारी निरीक्षक कोटद्वार को सूचना प्राप्त मिली थी कि जीवानन्दपुर मोटाढाक कोटद्वार निवासी शिशुपाल सिंह नेगी पुत्र आलम सिंह नेगी पर अज्ञात बदमाशों द्वारा गोली मारकर हत्या करने का प्रयास किया गया। इस सूचना पर तत्काल उच्चाधिकारीगणों को खबर करते हुए एक टीम घटना स्थल पर तथा एक टीम अज्ञात बदमाशों की तलाश हेतु रवाना की गयी तथा शिशुपाल सिंह की तहरीर के आधार पर थाना कोटद्वार पर मु0अ0सं0- 329/19 धारा 307 भादवि0 बनाम अज्ञात के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत किया गया।
घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी दलीप सिंह कुंवर के निर्देशानुसार अपर पुलिस अधीक्षक कोटद्वार प्रदीप राय, क्षेत्राधिकारी कोटद्वार अनिल कुमार जोशी के दिशा निर्देश पर प्रभारी निरीक्षक कोटद्वार के नेतृत्व में अलग-अलग टीमों का गठन किया गया।
10 जनवरी 2020 को मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीम द्वारा सुखरों नदी पुल पर मोटरसाइकिल प्लसर सं.- यूपी१४ एजे 0763 पर सवार दो व्यक्ति हर्षदीप उर्फ प्रीत पुत्र स्व. जसपाल सिंह व सचिन चौधरी पुत्र देवेन्द्र चौधरी उर्फ राजू को 10 जनवरी को समय ८.30 बजे पकड़ लिया तथा पुलिस टीम द्वारा सख्ती से पूछताछ की गई तो उक्त दोनों व्यक्तियों ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया।
उन्होंने बताया कि हम दोनों ने 24 दिसंबर की रात को इसी मोटरसाइकिल से जाकर सुपारी लेकर जीवानन्दपुर गॉव कोटद्वार में एक घर के बाहर से एक व्यक्ति पर जान लेने की नियत से रिवाल्वर से फायर किया था, लेकिन वह बाल-बाल बच गया था। इस काम को करने के लिए धीरेन्द्र सिंह रावत पुत्र रूपसिंह निवासी ग्राम शिवपुर त्रिलोकपुरम कॉलोनी कोटद्वार पौड़ी गढ़वाल ने कहा था और घटना को अजाम देने के लिए रिवाल्वर भी धीरेन्द्र सिंह रावत ने ही मुहैया करवाया था। सुपारी के एक लाख अस्सी हजार रुपए शूटरों को एडवांस में मिले थे। गत दिवस शूटर अपनी उसी मोटरसाइकिल से शेष रुपये एक लाख बीस हजार लेने व फायर किए हुए रिवाल्वर को वापस करने धीरेन्द्र सिंह रावत के पास आ रहे थे कि पुलिस ने दोनों अभियुक्तगणों को गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्त हर्षदीप उर्फ प्रीत, सचिन चौधरी उर्फ राजू से रिवाल्वर व पिस्टल मय कारतूस के गिरफ्तार किया गया, जिनके विरुद्ध अलग-अलग अभियोग पंजीकृत किये गये।
उक्त घटना में अभियुक्त के कहने पर प्रकाश में आये धीरेन्द्र सिंह रावत पुत्र स्व. रूपसिंह रावत निवासी त्रिलोकपुरम कॉलोनी शिवपुर कोटद्वार को शनिवार को पुलिस टीम ने उनके घर से गिरफ्तार कर लिया है।
थाने पर पूछताछ के दौरान धीरेन्द्र सिंह रावत ने बताया कि कोटद्वार क्षेत्र में पदमपुर सुखरों कोटद्वार में 12 जमीन को लेकर योगम्बर नेगी उर्फ डब्बू, दुर्गेश ममगाई, अमित देवरानी, राजेन्द्र मेंदौली, मोहित अग्रवाल से रंजिश चल रही थी, जिसमें योगम्बर नेगी एवं उसके साथ के लोगों द्वारा मुझे बार-बार धमकाया जा रहा था तथा मुझे शक था ये मुझे कभी भी मरवा सकते हैं तो मेरी योगम्बर नेगी से दुश्मनी हो गयी थी। योगम्बर नेगी को डराने के लिए मेरे द्वारा उसके भाई शिशुपाल सिंह नेगी पर बाहर से शूटर बुलाकर जान से मारने हेतु फायर करवाया गया। मैंने शूटरों को इस काम के लिए 3 लाख रुपये में बात की थी तथा एक लाख अस्सी हजार रुपये एडवांस दिए थे तथा शूटरों को मोटरसाइकिल व पिस्टल तथा रिवाल्वर उपलब्ध करायी थी।
अभियुक्तों में हर्षदीप उर्फ प्रीत(२०) पुत्र स्व. जसपाल सिंह निवासी ग्राम जमालपुर थाना रामराज जनपद मुजफ्फरनगर उप्र, सचिन चौधरी(२३) पुत्र देवेन्द्र चौधरी उर्फ राजू निवासी ग्राम नसीरपुर थाना तितावी जनपद मुजफ्फरनगर उप्र, एवं धीरेन्द्र सिंह रावत पुत्र स्व. रूपसिंह रावत निवासी त्रिलोकपुरम कॉलोनी शिवपुर कोटद्वार पौड़ी गढ़वाल हैं।
एसएसपी पौड़ी गढवाल द्वारा उपरोक्त घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 2500 रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

युवा डॉक्टर पांच वर्ष अपनी सेवाएं दुर्गम पर्वतीय क्षेत्रों में जरूर देंः राज्यपाल

युवा डॉक्टर पांच वर्ष अपनी सेवाएं दुर्गम पर्वतीय क्षेत्रों में जरूर देंः राज्यपाल राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा कि युवा डाॅक्टर अपने कैरियर के कम से कम पांच वर्ष उत्तराखण्ड के दुर्गम पर्वतीय क्षेत्रों में सेवाएं अवश्य दंे। युवा […]
rajyapal