उत्तराखंड में अब कागज की जगह ऑनलाइन प्रस्ताव, ई-मंत्रिमंडल प्रणाली का शुभारंभ

admin
e cabinate

उत्तराखंड में अब कागज की जगह ऑनलाइन प्रस्ताव, ई-मंत्रिमंडल प्रणाली का शुभारंभ

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को सचिवालय में ई-मंत्रिमण्डल प्रणाली का शुभारम्भ किया। ई-कैबिनेट का उद्देश्य समयबद्ध ढंग से कार्रवाई करना, पेपरलैस व्यवस्था को प्रोत्साहित करना एवं संस्थागत मेमोरी को विकसित करना है। इसके प्रयोग से जहां पर्यावरण मित्रा के माध्यम से कागज की बचत होगी वहीं संस्थागत मेमोरी द्वारा पूर्व की कैबिनेट जानकारी को प्राप्त करना भी आसान होगा। ई-कैबिनेट, ई-गवर्नेंस और पारदर्शिता की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।
प्रदेश में बुधवार 8 जनवरी २०१९ से कैबिनेट की बैठकों के लिए ई मंत्रिमंडल प्रणाली लागू हो गई है। भविष्य में होने वाली मंत्रिमंडल की बैठक में कागज की जगह अब ऑनलाइन प्रस्ताव बनकर जाएगा। गोपन विभाग ने ई मंत्रिमंडल के लिए पोर्टल तैयार कर दिया है। बैठक से संबंधित सामान्य सूचनाएं, स्थान और समय पोर्टल, एसएमएस और ईमेल के माध्यम से मंत्रिमंडल को अवगत करवाया जाएगा। प्रणाली का इस्तेमाल करने वालों का ई-अकाउंट होगा। इस पर सभी का लॉगइन आईडी तैयार की गई हैं। बैठक का कार्यवृत्त एवं निर्णयों को ऑनलाइन अपलोड और जारी किया जाएगा। मंत्रिमंडल की टिप्पणियां की केवल दो प्रतियां गोपन विभाग के लिए जारी होंगी, जबकि विभागों को डिजिटल स्वीकृतियां मिलेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखंड प्रथम ई-कैबिनेट बैठक के महत्वपूर्ण फैसले

उत्तराखंड प्रथम ई-कैबिनेट बैठक के महत्वपूर्ण फैसले देहरादून। राजकीय महाविद्यालयों में प्राचार्य असिस्टैंट प्रोफेसरों के रिक्त पदों के सापेक्ष अतिथि शिक्षकों की यूसीजी मानकों के अनुसार 11 माह के लिए नियुक्ति कर सकेंगे। इस संबंध में बुधवार को हुई राज्य […]
madan kaushik