कलियुग में जिगर का टुकड़ा ही देने लगे पिता की सुपारी 

admin
20200206 101404

कलियुग में जिगर का टुकड़ा ही देने लगे पिता की सुपारी 

क्या आप सोच सकते हैं कि एक पुत्र अपने पिता के लिए कुछ गलत सोच सकता है। यदि आप ऐसा सोचते हैं तो फिर आप गलत हैं। रुड़की में एक पुत्र ने संपत्ति के लालच में अपने पिता की ही सुपारी दे दी। इस घटना के बाद कलयुगी पुत्र की बात भी चरितार्थ हो गई। रुड़की एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह से मिली जानकारी के मुताबिक बीती 29 जनवरी को मिठाई कारोबारी रामपाल को गोली मारकर बदमाश फरार हो गए थे। गोली रामपाल के सिर और पीठ में लगी थी। उनका देहरादून में उपचार चल रहा है।

पुलिस छानबीन में पता चला कि रामपाल के अपने भाई व भतीजों से काफी लगाव था और उनका पुत्र उनसे अलग रहता था। उनके पुत्र को संदेह था कि उनकी संपत्ति कहीं उनके चाच लोग न हड़प ले। इसी कारण उनके पुत्र विपिन ने रणनीति बनाई और अपने मामा के लड़के मनोज और एक दोस्त के साथ मिलकर पिता की हत्या का षड्यंत्र रचा। पुलिस ने छानबीन की तो इस मामले में रामपाल के पुत्र विपिन सहित तीन आरोपित गिरफ्तार कर लिए हैं, जबकि शूटर सहित अभी भी 4 लोग पुलिस की पकड़ से बाहर बताए जा रहे हैं।

अपने जिगर के टुकड़े का लालन-पालन करते वक्त रामपाल ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उनकी जायदाद ही आगे चलकर उनकी जान का दुश्मन बन जाएगी और उनका ही लाडला ही उनकी सुपारी दे देगा।

बहरहाल इस घटना के बाद से कलयुगी पुत्र का कलंकित चेहरा सार्वजनिक हो चुका है और यह घटना समाज के लिए भी एक दाग के समान है। इस घटना ने यह संदेश भी दे दिया है कि आने वाला समय बड़ा भयावह हो सकता है जहां स्वार्थ सिद्धि के आगे रिश्तों की कोई कीमत नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

छात्रवृत्ति घोटाले में पक्षपातपूर्ण कार्यवाही क्यों कर रही उत्तराखंड पुलिस: धस्माना

छात्रवृत्ति घोटाले में पक्षपातपूर्ण कार्यवाही क्यों कर रही है उत्तराखंड पुलिस: धस्माना देहरादून। उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने राज्य के पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी को पत्र लिख कर राज्य में हुए छात्रवृत्ति घोटाले के मामले की […]
images