30 अप्रैल को खुलेंगे भगवान बदरी विशाल के कपाट

admin
badrinath ji 1

30 अप्रैल को खुलेंगे भगवान बदरी विशाल के कपाट

बसंत पंचमी के मौके पर नरेन्द्रनगर राजमहल में भगवान बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि और मुहर्त मनुजेंद्र शाह की वर्षफल और ग्रह नक्षत्रों की दशा देखकर निकाली। राजपुरोहित ने 30 अप्रैल भगवान बदरीनाथ के कपाट बह्म मुहूर्त में साढ़े चार बजे खुलने समय बताया। मौके पर मंदिर समिति के सदस्यों के अलावा कई लोग मौजूद थे।
बुधवार को नरेन्द्रनगर स्थित राज महल में राजपुरोहित संपूर्णानंद जोशी, आचार्य कृष्ण प्रसाद उनियाल व पंडित हेतराम थपलियाल ने गणेश पंचांग और चौकी पूजन के बाद मनुजेंद्र शाह के वर्षफल और ग्रह नक्षत्रों की दशा देखकर भगवान बदरीनाथ मंदिर के कपाट खुलने की तिथि निकाली। तिथि की घोषणा महाराजा मनुजेंद्र ने की।
आगामी 18 अप्रैल को नरेन्द्रनगर राजमहल में सुहागिन महिलाएं पीले वस्त्र धारण कर भगवान बदरीनाथ के अभिषेक के लिए राजमहल में तिलों का तेल पिरोएंगी। इसी दिन नरेन्द्रनगर से बदरीनाथ धाम के लिए गाडू घड़ा (तेल कलश) यात्रा का शुभारंभ मंत्रोच्चार के साथ होगा।
डिमरी धर्मिक पंचायत के लोग के साथ बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, बद्री धर्मिक केंद्रीय समिति अध्यक्ष विनोद डिमरी, सचिव राजेंद्र डिमीर, भाष्कर डिमरी, अनुज डिमरी, ज्योतिष डिमरी, रमेश डिमरी, शिव प्रसाद डिमरी, सुरेश डिमरी, मुकेश डिमरी गाडू घड़ा लेकर नरेन्द्रनर राजदरबार पहुंचे। इस मौके पर रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी, मंदिर समिति के मुख्य कार्याकारी बीडी सिंह, धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल, एएस नेगी, ईई अनिल ध्यानी, नगरपालिका अध्यक्ष राजेंद्र विक्रम सिंह पंवार, राजपाल सिंह पुंडीर, राजू गुसाई सहित कई लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखंड: उत्कृष्ट सेवा के लिए 72 शिक्षकों को शैलेश मटियानी पुरस्कार

उत्तराखंड: उत्कृष्ट सेवा के लिए 72 शिक्षकों को शैलेश मटियानी पुरस्कार देहरादून। शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रदेशभर के 72 शिक्षकों को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने शैलेश मटियानी पुरस्कार से सम्मानित किया। पिछले तीन वर्षों के […]
shailesh matiyani prize