दु:खद खबर पिथौरागढ़ : पांच युवकों के नदी में डूबने से मौत। घर में चल रही थी शादी की तैयारी

admin
PicsArt 06 09 05.03.36

पिथौरागढ़/मुख्यधारा

आज उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जनपद से बड़ी हृदय विदारक घटना सामने आई है। यहां गणाई गंगोली सरयू नदी में नहा रहे पांच युवाओं की डूबकर मौत हो गई। इस घटना के बाद जनपद में शोक की लहर दौड़ गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कूणां व सिमली गांव के युवक सेराघाट में एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए आए थे। इसी बीच उन्होंने नदी में नहाने की योजना बनाई और आज सुबह के समय नदी में नहाने चल दिए।

वीडियो

बताया गया कि गर्मी के मौसम में सभी पानी में नहाने का आनंद ले ही रहे थे कि इसी बीच एक युवक गहरे पानी के भंवर में डूबने लगा। उसी बचाने अन्य भी वहां की ओर गए और देखते ही देखते सभी पांचों युवक पानी में डूब गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने जैसे ही देखा कि पांच युवक पानी के बहाव में बह रहे हैं तो उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद सभी को नदी से बाहर निकाला, किंतु तब तक बहुत देर हो चुकी थी। सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गणाई लाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

मृतकों में मोहित कुमार (17) सिमली, पीयूष कुमार (17) कूणा, राहुल कुमार (16), साहिल कुमार (15) व रवीन्द्र कुमार (16) शामिल हैं।

बताया जा रहा है कि इन पांचों युवकों को तैरना नहीं आता था। उधर जहां ये लोग आए हुए थे, उस घर में शादी की तैयारी चल रही थी। जैसे ही यह दु:खद खबर वहां पहुंची, खुशी का माहौल मातम में बदल गया।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बुधवार को जनपद पिथौरागढ़ के ग्राम कूना निवासी 5 युवाओं के सेराघाट के समीप सरयू नदी में बहने से हुई मृत्यु पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत युवाओं की आत्मा की शान्ति तथा शोक संतप्त परिजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।

यह भी पढें : Breaking : ये रहे कैबिनेट के महत्वपूर्ण फैसले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कोरोना अपडेट : आज 513 नए संक्रमित व 3088 मरीज हुए स्वस्थ

देहरादून/मुख्यधारा आज प्रदेशर में 513 नए कोरोना संक्रमित सामने आए हैं, जबकि 3088 मरीज स्वस्थ होकर अस्पतालों से डिस्चार्ज हुए हैं। आज 22 मरीजों की मौत हुई है। इस प्रकार अब उत्तराखंड में सक्रिय मरीजों की संख्या 9258 हो गई […]
corona virus in uttarakhand