सिंचाई मंत्री ने किया संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई एवं स्थलीय सर्वेक्षण 

admin
satpal pal maharaj 17 jun

हम पूरी तरह से सजग, प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा के पुख्ता इंतजामः महाराज

हरिद्वार/मुख्यधारा   
प्रदेश में मानसून की दस्तक से पूर्व अपना होमवर्क पूरा करते हुए प्रदेश के सिंचाई, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को जनपद के संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई एवं स्थलीय सर्वेक्षण करते हुए सिंचाई विभाग द्वारा बाढ़ सुरक्षा हेतु किये गये गए कार्यों का निरीक्षण किया।
प्रदेश के सिंचाई पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को हरिद्वार जनपद के संभावित बाढ़ प्रभावित ग्राम कांगडी, ग्राम बिशनपुर-कुंडी तटबंध, ग्राम भोगपुर-बालावाली तटबंध एवं बालावाली खानपुर तटबंध का हवाई सर्वेक्षण करने के साथ-साथ बालावाली-खानपुर तटबंध का स्थलीय निरीक्षण भी किया।
सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने बताया उपरोक्त सभी क्षेत्रों में गंगा नदी से बाहर सुरक्षा हेतु लगातार विभाग द्वारा होमवर्क किया जा रहा है। मानसून से पूर्व बाढ़ सुरक्षा से संबंधित तैयारियों के संबंध वह कई बार विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर चुके हैं।
महाराज ने कहा कि सिंचाई विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। हम पूरी तरीके से सजग हैं। पूरे उत्तराखंड के अंदर जगह-जगह मॉनिटरिंग कमेटी बना दी गई है।
महाराज ने कहा कि भोगपुर से बालावाली तटबंध की सुरक्षा हेतु नाबार्ड मद के अंतर्गत 02 संख्या स्परों के निर्माण की योजना जिसकी लागत 231. 38 लाख, बालावाली से खानपुर तटबंध में नाबार्ड मद से 568.06 लाख की बाढ़ सुरक्षा योजना गतिमान है। इसके तहत 100 मीटर लंबाई के 4 स्पर तथा तटबंध की स्ट्रेन्थिनिंग आदि का कार्य 80 प्रतिशत तक पूर्ण किया जा चुका है, जबकि शेष कार्य भी शीघ्र ही पूर्ण कर दिया जाएगा।
सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि बालावाली से खानपुर तटबंध के पुनर्निर्माण की एक वृहद योजना जिसकी लागत 11512.18 लाख है, स्वीकृति हेतु जी.एफ.सी.सी. पटना को प्रेषित की गई है, जिसकी स्वीकृति हेतु कार्यवाही की जा रही है।
उन्होंने कहा कि पूर्व निर्मित बन्धों की तात्कालिक सुरक्षा हेतु वायरक्रेट स्पर एवं चैनेलाईजेशन हेतु भोगपुर से बालावाली तटबंध की सुरक्षा के लिए 01 संख्या, बालावाली से खानपुर तटबंध की सुरक्षा हेतु 07 संख्या, खानपुर मार्जिनल बंध की सुरक्षा हेतु 02 संख्या, बिशनपुर कुण्डी बंध की सुरक्षा हेतु 05 संख्या, कांगड़ी में बाढ़ सुरक्षा हेतु 02 संख्या, गाजीवाली में 03 संख्या एवं सोलानी बंधे की सुरक्षा हेतु 03 संख्या सहित कुल 23 संख्या प्राक्कलन जिसकी लागत 301.69 लाख है गठित कर स्वीकृति की कार्यवाही हेतु उच्च स्तर को प्रेषित की गई है।
सतपाल महाराज ने बताया कि इसके अतिरिक्त आपदा न्यूनीकरण के अंतर्गत गाजीवाली में 03 संख्या, कांगड़ी में 01 संख्या, सजनपुर पीली में 01 संख्या तथा बसोचन्दपुर गैण्डीखाता में कृष्णायन गौशाला की बाढ़ से सुरक्षा हेतु 01 संख्या कुल 6 संख्या जिसकी प्राक्कलन लागत 52.12 लाख है उसके लिए जिला स्तरीय आपदा न्यूनीकरण हेतु गठित समिति द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई है जिस पर कि शीघ्र ही कार्य प्रारंभ कराए जाएंगे। महाराज ने कहा कि मानसून के समय संवेदनशील स्थलों पर तात्कालिक बचाव हेतु वायरक्रेट एवं ई. सी बैग में रेत भरकर पर्याप्त मात्रा में  व्यवस्था की गई है।
जनपद में संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के हवाई एवं स्थलीय निरीक्षण के अवसर पर क्षेत्रीय विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन, सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता जयपाल सिंह, अधिशासी अभियंता डीके सिंह, अधीक्षण अभियंता एन.के. सिंह, लक्सर के एसडीएम शैलेंद्र नेगी और भाजपा के मंडल अध्यक्ष सुभाष सैनी सहित अनेक भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बड़ी खबर : महाविद्यालयों में रिक्त 701 पदों पर शीघ्र होगी भर्ती : धन सिंह 

एक माह के भीतर वाई-फाई सुविधा से जुड़ेंगे सभी महाविद्यालय राजकीय महाविद्यालयों में स्थापित होगी कम्प्यूटर लैब देहरादून/मुख्यधारा     उच्च शिक्षा विभाग के तहत राजकीय महाविद्यालयों में शैक्षणिक एवं शिक्षणेत्तर के 701 रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती की जायेगी। जिनमें […]
dhan singh rawat 17 jun