चकराता रोड पर पडऩे वाले क्षेत्रवासियों का कैंट बोर्ड बार-बार कर रहा उत्पीडऩ

admin

देहरादून। अस्थायी संगठन ग्राम नई मिठ्ठी बेरी के लोगों ने कैण्ट बोर्ड द्वारा अनाधिकृत रूप से परेशान करने को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। संगठन ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग चौड़ीकरण में चकराता रोड की काफी सारी दुकानें ध्वस्तीकरण की चपेट में आई, जिनकी मरम्मत में कैण्ट बोर्ड द्वारा स्वामियों का शोषण करते हुए अड़चने पैदा की गई। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी की उपस्थिति में कैण्ट बोर्ड की ओर से मौखिक स्वीकार किया गया कि क्षेत्र उसकी सीमा में न होकर नगर निगम क्षेत्रा के अंतर्गत आता है, जिससे मुख्य कार्य अधिकारी द्वारा अपनी अर्थसाधना के लिये नागरिकों को परेशान करने की मंशा स्पष्ट हुई है। क्षेत्र के लोगों ने कहा कि जब परिक्षेत्र कैण्ट बोर्ड की सीमा के अंतर्गत है ही नहीं तो किस अधिकार के तहत नोटिस दिये जा रहे हंै? परिस्थिति में यह भी अपेक्षित है कि कैण्ट बोर्ड की सीमा से प्रेमनगर चकराता रोड़ पर पडऩे वाले क्षेत्र को अलग सीमांकित किया जाए, ताकि कैण्ट बोर्ड बार-बार उत्पीडऩ न कर पाये।
इस अवसर पर तजेन्द्र सिंह, मदन लाल, किशन गोपाल राठोर, पूनम, मंजू शर्मा, केशव कांत, सीमा रवि, तारा देवी, कृष्ण हरविन्दर सिंह, उषा देवी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

8 अगस्त को बच्चों को खिलाएंगे एल्बैंडाजोल की दवा

पौड़ी। स्वास्थ्य विभाग के तत्वाधान तथा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के उपलक्ष्य में 8 अगस्त को जनपद में एक से लेकर 19 वर्ष तक के सभी बच्चों को एल्बैंडाजोल की दवा खिलाई जाएगी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. बीएस जगपांगी ने बताया […]
albendazole tablets lp