इस आश्रम की दो महिलाओं ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

admin
Rape victim abuse victim resources1 16a31076647 medium

देहरादून। दून के एक आश्रम में दो महिलाओं के साथ बलात्कार का मामला सामने आया है। महिलाओं उनके साथ रेप की शिकायत पुलिस से की है। पुलिस ने उनकी तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।
बताया जा रहा है कि सहस्त्रधारा के सेरा गाँव स्थित एक आश्रम में दो महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया गया। मामले में आरोपी चंद्रमोहन महाराज और अन्य व्यक्ति व उसकी पत्नी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपी चंद्रमोहन महाराज और पीड़ित महिलाएं उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले के रहने वाले हैं।
अभी हाल ही में 14 जून को इसी आश्रम में आयोजित हुए एक कार्यक्रम में केन्द्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थेl सूत्रों के अनुसार केन्द्रीय मंत्री और चंद्रमोहन महाराज पुराने मित्र हैंl

मामला कुछ यूँ था-

23 अगस्त 2019 को थाना राजपुर पर दो महिलाओं ने आकर लिखित शिकायत देते हुए आरोप लगाया कि 2013 से परमधाम न्यास मुख्यालय बलिदपुर दौराला मेरठ संचालक जनेऊ क्रांति चंद्रमोहन महाराज के मिशन से जुड़ी थी और उक्त परमधाम न्यास में महानिरीक्षक के पद पर कार्यरत थी। उक्त चंद्रमोहन महाराज ने ही प्रार्थनी कि शादी 18/6/18 को कराई थी, उक्त महाराज का आश्रम व निवास ग्राम शेरा सहस्रधारा में है, वह वही पर मिशन से जुड़ी महिलाओं की मीटिंग बुलाई जाती थी। प्रार्थनी 22/06/18 की महिला मीटिंग में शामिल होने के लिए ग्राम शेरा सहस्रधारा के आश्रम में गयी थी, दिन में मीटिंग होने के बाद रात को प्रार्थनी उक्त आश्रम के टीन शेड में सो रही थी, समय करीब रात्रि 12 बजे उक्त आश्रम के जनेऊ क्रांति अध्यक्ष कुलदीप निवासी मुज़फ्फरनगर की पत्नी तथा आश्रम के श्रीमंत नीरज की पत्नी अलका प्रार्थनी के पास टिन शेड में आई और प्रार्थनी से कहा कि तुझे बहुत जरूरी काम से चंदमोहन महाराज ने अपने कमरे में बुलाया हैं, प्रार्थनी बिना किसी शक के कमरे में गयी, तो वह पर चंदमोहन महाराज व कुलदीप दोनों थे, दरवाजा अंदर से बंद कर लिया और दोनों ने प्रार्थनी के साथ जबरदस्ती बलात्कार किया। दुष्कर्म के बाद धमकी दी कि यदि कहीं बताया तो तुझे जिंदा नही छोड़ेंगे।

इसी प्रकार मेरी साथी महिला ने भी मुझे बताया था कि 17/06/19 को इसी प्रकार चंदमोहन महाराज ने उसके साथ भी बलात्कार किया था। उसने मुझे भी धमकी दी थी कि मैंने तेरे वीडियो क्लिप भी बना ली है।

उक्त महिलाओं का कहना है कि चंद्रमोहन महाराज अत्यंत प्रभावशाली व ऊंची पहुंच वाला व्यक्ति है। प्रार्थनी व मेरी साथी उससे डर की वजह से आज तक शिकायत नही कर पाए। प्रार्थनी अब उक्त के विरुद्ध कार्यवाही करना चाहती है। उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत उचित धाराओ में अभियोग पंजीकृत कर इसकी सूचना तुरंत उच्च अधिकारीगणों को दी गयी। जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा उक्त प्रकरण की निष्पक्ष जांच कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। उक्त मामले की विवेचना प्रारम्भ की गई, रात्रि को ही पीड़िताओं का मेडिकल परीक्षण कराया गया। अन्य तथ्यों पर भी विवेचना की जा रही है, सभी प्राप्त सही तथ्यों के आधार पर अग्रिम विधिक कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

विश्वविद्यालयों को सरकार और समाज के साथ करनी चाहिए 'एक्टिव पार्टनरशिप': राज्यपाल

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य का एक वर्ष का कार्यकाल सफलतापूर्वक पूर्ण उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने 26 अगस्त, 2018 को उत्तराखण्ड की 7वीं राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की थी। 26 अगस्त, 2019 को श्रीमती मौर्य के […]
Baby Rani Maurya Governor