दीये, मोमबत्ती जलाने के लिए तैयार देश। लेकिन यूपीसीएल की इस अपील को जरूर पढ़ लें

admin
pitcul

यूपीसीएल की अपील : लाइट के अलावा खुला रखें अन्य उपकरण

रात्रि 8 से 10 बजे तक पिटकुल ने लगाई कर्मचारियों की ड्यूटी
सोशल डिस्टेंसिंग को अनिवार्य रूप से पालन करने के निर्देश

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आज रात्रि 9:00 बजे 9 मिनट के लिए घर की सभी लाइटें बंद करके घर के दरवाजे, बालकनी में दीये, मोमबत्ती, टार्च जलाने वाली अपील के बाद उत्तराखंड पावर कारपोरेशन ने उपभोक्ताओं से केवल घर की लाइट्स ही बंद करने की अपील की है। उत्तराखंड पावर कारपोरेशन ने इस भिन्नता को संभालने के लिए बिजली का ग्रिड मजबूत और स्थिर बताया है।हालांकि विद्युत खपत में गिरावट आने के अंतर को संतुलन के लिए ऐसा कहा गया है।
उत्तराखंड पावर कारपोरेशन के प्रबंध निदेशक बीसीके मिश्रा ने आवश्यक सूचना जारी कर उपभोक्ताओं से अनुरोध किया है कि इस अवधि के दौरान सभी अन्य विद्युत उपकरण जैसे टीवी, फ्रिज आदि चीजे चालू रखने का अनुरोध किया है। साथ ही यह भी कहा है कि बिजली का मेन स्विच को बंद न करें।
यही नहीं स्ट्रीट लाइटें तथा सभी आवश्यक सेवाओं जैसे अस्पताल, पुलिस स्टेशन, सार्वजनिक सेवाएं आदि में भी लाइटों की रोशनी इस दौरान चलती रहेंगी। बिजली संबंधित किसी भी समस्या के समाधान के लिए एक टोल फ्री नंबर 1912 भी जारी किया गया है।

20200405 173353
उधर केंद्र सरकार ने भी कहा है कि नौ मिनट तक लाइट बंद करने से बिजली आपूर्ति में कोई बाधा उत्पन्न नहीं होने वाली। बिजली मंत्रालय के अनुसार देश में ग्रिड सिस्टम मजबूत है जो बिजली खपत के उतार-चढ़ाव को मैनेज कर सकता है।
वहीं स्थिति से निपटने के लिए पावर ट्रांसमिशन कारपोरेशन ऑफ उत्तराखंड (पिटकुल) ने आज रात्रि 8 बजे से 10 बजे तक अपने सभी उपस्थानों पर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है।
pawer
दरअसल पावर ट्रांसमिशन कारपोरेशन ऑफ़ उत्तराखंड की चिंता यह है कि कोविड 19 के दृष्टिगत अधिकतर औद्योगिक संस्थान बंद हैं। ऐसे में ज्यादातर लोडिंग घरेलू बिजली खपत पर ही हो रही है। यदि सभी घरेलू लाइट बंद हो जाती हैं तो विद्युत आपूर्ति की मांग में कमी हो जाएगी। ऐसे में उप केंद्रों एवं लाइनों पर उच्च विभव की आशंका है, यानि की अचानक खपत कम हो जाने से पावर बैलेंस असंतुलित हो सकता है। इसको ध्यान में रखते हुए विद्युत उपस्थानों का विद्युत प्रवाह सुचारू रखने के उद्देश्य से परिचालन एवं अनुपालन पिटकुल गढ़वाल क्षेत्र के अंतर्गत 5 अप्रैल रात्रि 8 से 10 के बीच गढ़वाल क्षेत्र के विद्युत उपस्थानों पर ड्यूटी लगाई गई है।
साथ ही सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि सभी अधिकारी संबंधित स्थान पर प्रत्येक फीडर की वोल्टेज/लोड पर कड़ी नजर रखते हुए विषम परिस्थितियों में भी उपस्थान का संचालन सुनिश्चित करेंगे, ताकि विद्युत उपस्थानों से बिजली आपूर्ति होने में कोई दिक्कत न हो।
p1
मुख्य अभियंता परिचालन एवं अनुरक्षण कमल कांत द्वारा 4 अप्रैल को जारी कार्यालय ज्ञाप के अनुसार प्रत्येक उपस्थानों पर संबंधित अवर अभियंता अनुरक्षण एवं तकनीशियन भी उपस्थान के उचित संचालन के लिए ड्यूटी पर रहेंगे। संबंधित अधिकारी एसएलडीएस के निरंतर संपर्क में रहते हुए एसएलडीएस द्वारा दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन करने को कहा गया है। यह भी निर्देश दिए गए हैं कि उक्त अधिकारी कोविड-19 हेतु दिए गए दिशा निर्देशों के तहत मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ड्यूटी पर तैनात रहेंगे।
पिटकुल के निदेशक श्री मित्तल ने कहा कि बिजली बंद होने से घबराने वाली कोई बात नहीं है। केवल घरों की लाइट बंद होनी है, जबकि बिजली उपकरणों को खुला ही रखा जाएगा। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए उन्होंने पूरी तैयारी की है।

बहरहाल, प्रधानमंत्री की अपील के बाद प्रदेशभर में दीये, मोमबत्ती जलाने की रविवार सुबह से ही तैयारियां चल रही हैं और लोग इस विश्वास के साथ दीपक का प्रकाश फैलाना चाहते हैं कि देश में कोरोना वायरस लोगों की सहभागिता से जल्द पराजित होगा।

यह भी पढ़ें : पीएम ने कोरोना हराने को देशवासियों से की अपील। पांच अप्रैल को रात नौ बजे अपने घरों के दरवाजों पर जलाएं दीये-मोमबत्ती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

लॉकडाउन : आस्था पथ पर घूमने पर 10 लोगों के खिलाफ मुकदमा

टिहरी। लॉकडाउन का सख्ती से अनुपालन कराने के  वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक टिहरी गढ़वाल के निर्देश पर थाना मुनि की रेती पुलिस द्वारा लॉक डाउन का उल्लंघन करने पर 10 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इन पर हुई […]
FB IMG 1585916409241